www.risalaonline.com

 

 

 

 

New Page 1

Trail version

Muslim Students Organization (MSO)

 SSF | All India | English News | Urdu News | SYS | Campus | Kanthapuram |  SBS | RSC | Markaz | Bangalore | Lakshadweep |


समलैंगिकता पर सभी धर्म गुरु और समाज सुधारक एक साथ

 जयपुर, 22 दिसंबर. मुस्लिम स्टूडेंट्स ऑर्गनाइजेशन ऑफ इण्डिया (MSO) के तत्वाधान में तथा देश बचाओ आन्दोलन के सहयोग से आयोजित समलैंगिकता समाज व मानवता के लिए खतरा के विषय पर बोलते  हुए सभी धर्म के तथा सामाजिक वक्ताओ ने एक स्वर में समलैंगिकता को सामाजिक ढांचे के लिए खतरा बताया, तथा इसे ऐसा कुकृत्य बताया जो मानवता के विरुद्ध है.

MSO के राष्ट्रीय महासचिव इंजिनियर शुजाअत अली क़ादिरी ने कहा कि समलैंगिकता न सिर्फ धर्म के खिलाफ है बल्कि यह सामाजिक और प्राकृतिक रूप से भी खतरनाक है, और भारतीय सभ्यता और संस्कृति में तो यह सामाजिक गुनाह माना गया है. उन्होंने समलैगिकता के दुष्प्रभावों पर प्रकाश डालते हुए कहा है आज 25 प्रतिशत एड्स बीमारी समलैगिंकों के द्वारा फ़ैल रही है, अगर इस कुकृत्य को सवैधानिक दर्जा दे दिया जायेगा तो यह समाज के नैतिक पतन की शुरूवात होगी और समाज घोर अंधकार की तरफ चला जायेगा, उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिया गया फैसले को मानना चाहिए और उसका सम्मान करना चाहिए, अगर केंद्र सरकार इसको मान्यता देने के लिए कोई क़दम उठाती है तो हम इसका खुलकर पुरजोर विरोध करेंगे और MSO इसके खिलाफ पूरे देश में मुहिम चलाएगी, उन्होंने कहा कि MSO जल्द ही दिल्ली के जंतर मंतर पर एक विशाल प्रदर्शन करेगी जिसमे सभी धर्मो के मानने वाले और सामाजिक कार्यकर्ता शामिल होंगे.

ईसाई धर्म गुरु फादर विजय पॉल ने बाईबल पुस्तक के हवाले से बताया कि ईसाई धर्म में समलैंगिकता को अमानवीय कार्य कहा गया है और इसको अप्राकृतिक बताया है.

सामाजिक कार्यकर्ता श्री पंचशील जैन ने समलैंगिकता को जहा समाज विरोधी बताया वही इसको पश्चमी देशो द्वारा प्रायोजित भी बताया, उन्होंने कहा कि कोई भी धर्म या सभ्य समाज इसकी इजाज़त नहीं दे सकता. श्री जैन से जैन धर्म के हवाले से भी इसको अमानवीय कार्य बताया.

इस्लामिक धर्म गुरु मुफ़्ती मौलाना अंसारुल क़ादिरी फैजी (सुन्नी दारुल इफ्ता- जयपुर) ने कहा कि इस्लाम ने समलैंगिकता को 1400 साल पहले ही अपराध की श्रेणी में रख कर इससे दूर रहने का आदेश दिया था क्युकी इससे एक तरफ पूरे समाज का संतुलन तो बिखरेगा ही वही दूसरी तरफ प्रकृति के नियम के खुला मजाक होगा.

राजस्थान अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व अध्यक्ष श्री जसबीर सिंह ने भी समलैंगिकता पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है और कहा है कि यही फैसला उचित भी है और सभी को इसका सम्मान करना चाहिए. हिंदू धर्मगुरु विद्वान ने भी समलैगिकता को घोर अपराध मानते हुए कहा कि सरकार को ऐसा कोई कानून नहीं बनाना चाहिए जिसमे इस अमानवीय कृत्य को जायेज़ माना जाए.

प्रसिद्ध इस्लामी विद्वान व आलिमे दीन सय्यद मुहम्मद रिज़वी (मुंबई), लेखक श्री नरेन्द्र शर्मा कुसुम, श्री सलावत खान (पूर्व अध्यक्षवक्फ़ बोर्ड), श्रीमती कल्पना जैन, ने भी अपने विचार रखे. कार्यकर्म में संस्था सन्देश व अनुव्रत समिति का भी सहयोग रहा.

इस अवसर पर सन्देश के अध्यक्ष सत्यजीत तालुकदार, युनुस चौपदार सचिव MSO राजस्थान, समाजसेवी युसूफ अली टाक, श्रीमती सुशीला, खुर्शीद शेख, राजेंद्र चौधरी, वाहिद यजदानी, पल्लवी, मुजाहिद खान, शहरयार बेग आदि लोग मौजूद रहे.


Fw Fkv H \mjW FIvknpohv aov ]qs\ AAvk Imkn PmanA Ajvd^n {]nknn knZv Aq_v Ajvd^n DZvLmS\w sNpp 11/09/2013


Fw Fkv Hv ]pXnb `mchmlnIfmbn

Fkv Fkv F^v tZiob Xen kPohamIpw

sImn: Fkv Fkv F^ns {]h\w tZiob Xen IqSpX kPohampp. sImnbn tN tZiob Iukn CXn\v Ana cq]w \In. cmPys 20 kwm\fn \np {]Xn\n[nI ]sSp tZiob kwKaw ASp Av hjw Ab kwm\fnse tImsfPpIfpw bq\nthgvknnIfpw tI{oIcnp sImWvSp {]h\ġv Du \evIm Xocpam\np. tZiob LSIamb Fw.Fkv.H bpsS ]pXnb `mchmlnIsfbpw tbmKw XncsSpp.

]pXnb `mchmlnIfmbn knZv aplZv JmZncn Pbv]q ({]knUv), B.]n lpssk tIcf (P\.sk{Idn), knZv aplZv Xpdm_v kJm^n ({Sjd), iuv \Cuan Imivao (sshkv {]knUv), A_vZpdioZv ssk\n IWmSI (sU]yqn {]kn), ipPmAXv JmZncn bp.]n (Imkv sk{Idn), A_vZpdDu^v _mwKfq (tPm.sk{Idn), F.]n _io tIcf (sU]yqn sk{Idn), kpssldpo \qdm\n (Akn. sk{Idn) Fnhsc XncsSpp. 28/04/2013


AkvatX dkq tIm^dkn Bbnc kw_np

Khalid Melmuri

Fw.Fkv.H kwLSnn AkvatX dkq tIm^dkv AenKVv apkvenw bq\nthgvknn hn.kn ]n.sI A_vZp Akokv DZvLmS\w sNpp

AenKVv(bp.]n): apkvenw bq\nthgvknn Fw.Fkv.H kwLSnn AkvatX dkq tIm^dkv {]hmNI {]Io\ sImWvSv [\yambn. bq\nthgvknnIpw ]pdpap Bbnc kw_np. hnhn[ `mjIfnep {]hmNI {]Io\ Bbncġv \hym\p`hambn. s{]m^. Aao anbm AJmZncn bpsS A[yXbn AenKVv apkvenw bq\nthgvknn hn.kn ]n.sI A_vZp Akokv DZvLmS\w sNbvXp. enbmJXv lpssk apCu\n APvao, imlp laoZv _mJhn im]pcw, auem\m Dsshkp lJv, aplZv Bknw AJmZncn, auem\m Ja AlvaZv Ajvd^n (Uln), ap^vXn Jadpo, AlvaZv _KvZmZn {]kwKnp. auem\ A_vZp hIo ap_mdIv]q, tUm.dkm dnkvhm FnhcpsS t\XrXzn \S \AvXv Jhm\nbpw, id^po Akvlcn, ^kolv Akvlcn FnhcpsS t\XrXzn \S _pZ ]mcmbWhpw kZkns\ BXvaob elcnbnemgvn. tIm^dkn kw_n Bbncġv Fw.Fkv.H {]knoIcn \_nZn\ _pn\pw X_dpIpw hnXcWw sNbvXp. tUm. \Pvapo AlvaZv kzmKXhpw aplZv imthkv (bp.]n) \nbpw ]dp. 25/03/2009


Fw.Fkv.H kwLSnn AkvatX dkq tIm^dkn imlp laoZv _mJhn im]pcw {]kwKnpp 25/03/2009



AenKVv bq\nthgvknn FwFkvH sl]v sse

AenKVv: AenKVv apkvenw bq\nthgvknn FwFkvH aebmfn Nm]vdn\p Iogn sl]v sse cq]hXvIcnp. bq\nthgvknnbn {]thi\w Dtinphv Bhiyamb amK \ntZi e`nm sl]v sse\pambn _sSmw. Pm_n Im]pcw: 9720786324 jabirpb4u@gmail.com, kIo aqnbq 9897504965, \u^ hn.Fkv 9997508380, C_vdmlow Xmq 9756105284 ibraheem.sqfi@yahoo.com 17/03/2009


Ulnbn FwFkvH kwLSnn \_nZn\ dmen Ibrahim Thathur 13/03/2009


FwFkvH pUvkv aov

Shahnawaz Warsi

Uln: apkvenw pUvkv HmKss\tkj (Fw FkvH) Ulnbn kwLSnn AJnteym hnZymYn kwKaw {itbambn. hnhn[ kwm\fn \nv hyXykvX bq\nthgvknnIfn ]Tnp [mcmfw hnZymYnI kw_np. ^tXlv]q akvPnZv Camw ap^vXn apIdw AlvaZv imln, Uln \yq\] Ioj sNbam Iam ^mdqJn, tUm. Kpemw blvb APw, Imcq kpn akv at\P kn aplZv ss^kn, ]p\q aIkv KmU UbdIvS tUm. F ]n A_vZp lIow Akvlcn {]kwKnp.

ap^vXn apIdw AlvaZv imln

Fw FkvH \mj\ FIvknIyqohv Inn `mchmlnIfmbn tUm. F ]n A_vZp lIow Akvlcn ({]kn), im\hmkv hmkn (P\. sk{I.), Bkn^v CJv_m ({Sj), ApYo^v (ssh. {]kn), iPmAXvAen JmZncn, \Pvapo AlvaZv (tPm. sk{I.) Fnhsc sXcsSpp.  01/09/2008


FwFkvH v ]pXnb `mchmlnI

Suhairudheen

\yqUln: kpn hnZymYnIfpsS AJnteym kwLS\bmb FwFkvH (apkvenw pUvkv HmKss\tkj) Ishj ZmcnbKnse aIkv Hm^okn tNp. tUm.lpssk kJm^n NpntmSv tUm. A_vZp lIow Akvlcn {]kwKnp. ]pXnb `mchmlnIfmbn jm\hmkv hmkn (P\.Iho\) s{]m^.Ajvd^v Cnbm, Ap Akokv, ApXzo^v, PAv^ \qdm\n (Iho\), Imkv Iho\amcmbn kpssldpo (Zmdp Deqw), C^m AlvaZv (PmanA ann), \nkm AlvaZv ankv_mln (lwZZv) Fnhsc XncsSpp. 24/02/2008


AeoK apkvenw bq\nthgvknnbn Fw Fkv H kwLSnn Akvav dkpt{]m{Kman Aao C anïv Aao anbm JmZncn {]kwKnpp Mohd Aslam Aligarh


bulletin

BWn\pw s]n\pw AhcptSXmb [afpw ZuXyfpapv. AXp \nlnqtm hnthN\hpw A\oXnbpapmhn. \oXnv thn \nesImpI.

 


 

Kerala Yathra Photos

 

Samastha

Samastha | SYS | SSF | SKSVB |  SJM | SMA | SBS | RSC Gulf Chapter | SSF Campus | SSF National Bangalore | Other News | All India | Lakshadweep | Archives | English Version | General News | Juma Khutuba |  Info page | Kerala PSC | Calicut University | Kerala University | M.G University | Kannur University | Agricultural University | Cochin University | Sanskrit University | Higherstudiesonline | Norka-roots | PravasiWelfareFund | Kerala HighCourt | Articles | Risala | IPB | State Leaders | Saudi | UAE | Kuwait | Qatar | Bahrain | Oman | Egypt | Palestine | Australia Britain | Malaysia | Singapore | Hong Kong | Kozhikode | Malappuram | Palakkad | Thrissur | Ernakulam | Idukki | Kottayam | Alappuzha | Pathanamthitta | Kollam | Trivandrum | Kasaragode | Kannur | Wayanad  | Nilagiri | Kanthapuram | Markaz |  Saadiyya | Ihyaussunna | Mahdin | Sirajul Huda | Majmau Vettichira | Al Maqar | Jamia Hasaniyya | Hashimiyya | Hikamiya | Darul Aman | Bukhari | Ghousiyya | Muhimmath |  Madani | Firdous | Al Furqan | Al Madeena | Mazhar | Darul Ma'arif | CM Centre | Markaz Ottappalam |

Sunni Students Federation ( SSF ) Malappuram District Committee, Wadisalam, Malappuram- 676505, Kerala-India